30 Minute Chat Consultation
You can ask, as many things as you can. You can extend time limit if you want more time. You will get this service within 48 hours after confirmation of your payment. Chat details will be informed after receiving your details and payments.
Yoga's In Kundli
Kundli Milan
Namkaran Report

 

१२ राशी की विशेषताएँ -  Characteristics of 12 Signs

मेष राशि – Aries Sign
इस राशि में सूर्य को उच्च का तथा शनि को नीच का माना जाता है |  मेष राशि चर स्वभाव तथा पूर्व दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में मेष राशि को क्षत्रिय वर्ण तथा तत्व में अग्नि तत्व की श्रेणी में रखा गया है |  मेष राशि का बाह्य में सिर व भीतरी अंगों में मस्तिष्क का प्रतिनिधित्व करता है |  यह लाल रंग की पुरुष, क्रूर, रात्रिबली, पृष्ठोदय, रजोगुण वाली राशि है |

वृष राशि – Tauras Sign
वृष राशि का स्वामी शुक्र है |  चंद्रमा इस राशि में उच्च का होता है तथा मतानुसार केतु भी उच्च का माना जाता है किन्तु राहु नीच का होता है |  वृष राशि स्थिर स्वभाव की है तथा दक्षिण दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में इस राशि को वैश्य तथा पृथ्वी तत्व की क्षेणी में रखा गया है |  वृष राशि का बाह्य में मुख व भीतरी अंगों में कण्ठ, टांन्सिल्स का प्रतिनिधित्व करती है |  वृष राशि – स्त्री राशि है, यह सौम्य, पृष्ठोदय, तमोगुण वाली राशि है |

मिथुन राशि – Gemini Sign
मिथुन राशि का स्वामी बुध है |  मिथुन राशि में राहु उच्च का व केतु नीच का माना जाता है |  मिथुन राशि द्विस्वभाव तथा पश्चिम दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में मिथुन राशि को शूद्र वर्ण तथा वायु तत्व की क्षेणी में रखा गया है |  मिथुन राशि का बाह्य में गला व बांहे भीतरी अंगों में फेफड़े व स्वांस संबन्धी तंत्रों का प्रतिनिधित्व करता है |  यह हरे रंग की पुरुष, क्रूर, रात्रिबली, पृष्ठोदय, सतोगुण वाली राशि है |

कर्क राशि – Cancer Sign
कर्क राशि का स्वामी चंद्रमा है |  इस राशि में गुरु उच्च का तथा मंगल नीच का माना जाता है |  कर्क राशि सौम्य स्वभाव तथा उत्तर दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में कर्क राशि को ब्राह्मण वर्ण तथा तत्व में जल तत्व की श्रेणी में रखा गया है |  कर्क राशि का बाह्य में छाती व भीतरी अंगों में हृदय का प्रतिनिधित्व करता है |  यह स्त्री राशि शुभ, रात्रिबली, पृष्ठोदय, रजोगुण वाली राशि है |

सिंह राशि – Leo Sign
सिंह राशि का स्वामी सूर्य है |  सिंह राशि क्रूर स्वभाव तथा पूर्व दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में सिंह राशि को क्षत्रिय वर्ण तथा तत्व में अग्नि तत्व की श्रेणी में रखा गया है |  सिंह राशि का बाह्य में पेट व भीतरी अंगों में पाचन तंत्र का प्रतिनिधित्व करता है |  यह पीत रंग की पुरुष राशि, क्रूर, दिवाबली, शीर्षोदय, तमोगुण वाली राशि है |

कन्या राशि – Virgo Sign
कन्या राशि का स्वामी बुध है |  यह राशि बुध की ही मूल त्रिकोण राशि भी मानी जाती है |  इस राशि में बुध उच्च का तथा शुक्र नीच का माना जाता है |  कन्या राशि शुभ्स् स्वभाव तथा दक्षिण दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में कन्या राशि को वैश्य वर्ण तथा तत्व में पृथ्वी तत्व की श्रेणी में रखा गया है |  कन्या राशि का बाह्य में कमर व भीतरी अंगों में आंते, पेट के भीतर का निचला हिस्से का प्रतिनिधित्व करता है |  यह चितकबरे रंग की स्त्री, शुभ, दिन में बली, शीर्षोदय, सतोगुण वाली राशि है |

तुला राशि – Libra Sign
तुला राशि का स्वामी शुक्र है |  इस राशि में शनि उच्च का तथा सूर्य नीच का माना जाता है |  तुला राशि चर स्वभाव तथा पश्चिम दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में तुला राशि को शूद्र वर्ण तथा तत्व में वायु तत्व की क्षेणी में रखा गया है |  तुला राशि का बाह्य में पेडू, जनेन्द्रियाँ व भीतरी अंगों में गुर्दे का प्रतिनिधित्व करता है |  यह चितकबरे रंग की पुरुष, क्रूर, दिन में बली, शीर्षोदय, रजोगुण वाली राशि है |

वृश्चिक राशि – Scorpio Sign
वृश्चिक राशि का स्वामी मंगल है |  राहु इस राशि में उच्च का तथा केतु नीच का माना जाता है |  वृश्चिक राशि सौम्य स्वभाव तथा उत्तर दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में वृश्चिक राशि को ब्राह्मण वर्ण तथा जल तत्व की क्षेणी में रखा गया है |  वृश्चिक राशि का बाह्य में गुदा व भीतरी अंगों में मूत्रेंद्रिय, जनेन्द्रिय का प्रतिनिधित्व करता है |  यह स्वर्ण रंग की स्त्री राशि, सौम्य, दिवाबली, शीर्षोदय, तमोगुण वाली राशि है |

धनु राशि – Sagittarius Sign
धनु राशि का स्वामी गुरु है |  राहु इस राशि में उच्च का तथा केतु नीच का माना जाता है |  धनु राशि क्रूर स्वभाव तथा पूर्व दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में धनु राशि को क्षत्रिय वर्ण तथा तत्व में अग्नि तत्व की श्रेणी में रखा गया है |  धनु राशि का बाह्य में जाँघे, कूल्हे व भीतरी अंगों में स्नायु मण्डल व रक्त वाहक नसो का प्रतिनिधित्व करता है |  यह पीत रंग की पुरुष, क्रूर, रात्रिबली, पृष्ठोदय, सदगुण वाली राशि है |

मकर राशि – Capricorn Sign
मकर राशि का स्वामी शनि है |  मंगल इस राशि में उच्च का तथा बृहस्पति नीच का माना जाता है |  मकर राशि सौम्य स्वभाव तथा दक्षिण दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में मकर राशि को वैश्य वर्ण तथा पृथ्वी तत्व की क्षेणी में रखा गया है |  मकर राशि का बाह्य में घुटने व भीतरी अंगों में हड्डियां तथा जोड़ों का प्रतिनिधित्व करता है |  यह स्त्री राशि, सौम्य, रात्रिबली, पृष्ठोदय, रजोगुण वाली राशि है |

कुम्भ राशि – Aquarius Sign
कुम्भ राशि का स्वामी शनि है |  कुम्भ राशि क्रूर स्वभाव तथा पश्चिम दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में कुम्भ राशि को शूद्र वर्ण तथा तत्व में वायु तत्व की श्रेणी में रखा गया है |  कुम्भ राशि का बाह्य में पिंडलियाँ व भीतरी अंगों में रक्त तथा रक्त प्रवाह तंत्रो का प्रतिनिधित्व करता है |  यह नीला रंग की पुरुष, क्रूर, दिवाबली, शीर्षोदय, तमोगुण वाली राशि है |

मीन राशि – Pisces Sign
मीन राशि का स्वामी गुरु है |  शुक्र इस राशि में उच्च का तथा बुध नीच का माना जाता है |  मीन राशि सौम्य स्वभाव तथा उत्तर दिशा का प्रतिनिधित्व करती है |  वर्ण विभाजन में मीन राशि को ब्राह्मण वर्ण तथा तत्व में जल तत्व की श्रेणी में रखा गया है |  मीन राशि का बाह्य में पैर व का प्रतिनिधित्व करता है |  यह भूरे रंग की स्त्री, सौम्य, रात्रिबली, उभयोदय, सतोगुण वाली राशि है |